एलआईसी पॉलिसी में आधार लिंक कैसे करें?

एलआईसी पॉलिसी में आधार लिंक कैसे करें?

एल आई सी, जीवन बीमा

भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण द्वारा दिनाँक 08/11/2017 को अपने सर्कुलर IRDAI/SDD/MISC/CIR/248/11/2017 द्वारा स्पष्ठ किया गया कि जीवन बीमा पॉलिसियों मे आधार एवं पैन नम्बर दर्ज कराना आवश्यक है।

उपरोक्त संबंध में भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा पॉलिसियों मे आधार एवं पैन नम्बर अपडेट करने के लिये अपने वेब पोर्टल पर लिंक उपलब्ध करा दिया गया है। बीमाधारक अपनी पॉलिसियों में एलआईसी वेेेेब पोर्टल के जरिये घर बैठे ही अपनी पॉलिसीयों में अपना आधार नम्बर एवं पैन कार्ड नम्बर अपडेट कर सकते हैं। Continue reading “एलआईसी पॉलिसी में आधार लिंक कैसे करें?”

एलआईसी की नयी योजना बीमा डायमंंड (प्लान न. 841)

एलआईसी की नयी योजना बीमा डायमंंड (प्लान न. 841)

एल आई सी, जीवन बीमा

पिछले साल भारतीय जीवन बीमा निगम ने अपनी  हीरक जयंती (60वी वर्षगांठ) मनायी। इस अवसर पर भारतीय जीवन बीमा निगम द्वारा अपनी नयी जीवन बीमा योजना चालु की थी, जिसका नाम है “बीमा डायमंंड” प्लान न. 841.  इस प्लान को भारत के वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली द्वारा 01/09/2016 को मुम्बई मे जारी किया गया था। यह योजना दिनाँक 31/08/2017 तक ही बिक्री के लिये उपलब्ध है। 

एलआईसी की बीमा डायमंंड एक नॉन लिंक्ड, लाभ सहित, सीमित अवधि प्रीमियम भुगतान मनी बैक योजना है। इस योजना में बीमा अवधि के दौरान हर चौथे साल धन वापसी का प्रावधान है। बीमा डायमंंड प्लान मे बीमा अवधि के समाप्त होने के पश्चात भी बीमा अवधि के आधे टर्म तक विस्तारित जीवन बीमा कवर उपलब्ध है। बीमा डायमंंड की युनिक पहचान संख्या 512N307V01 है। Continue reading “एलआईसी की नयी योजना बीमा डायमंंड (प्लान न. 841)”

एलआईसी की नयी योजना आधार शिला (प्लान न. 844)

एलआईसी की नयी योजना आधार शिला (प्लान न. 844)

एल आई सी, जीवन बीमा

भारतीय जीवन बीमा निगम दिनाँक 24/04/2017 से अपनी एक नयी योजना आधार शिला (प्लान न. 844) जारी करने जा रहा है। एलआईसी की आधार शिला एक नॉन लिंक्ड, लाभ सहित, रेगुलर प्रीमियम भुगतान वाली बन्दोबस्ती योजना है।  एलआईसी द्वारा यह योजना खास तौर पर महिलाओं के लिये बनायी गयी है जिनके पास भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण द्वारा जारी आधार कार्ड है। आधार शिला योजना केवल किसी भी मेडिकल परीक्षा के बिना मानक स्वस्थ जीवन के लिए उपलब्ध है| इस प्लान को किसी भी महिला के जीवन पर अधिकतम रू. 300000  मूल बीमाधन तक ही लिया जा सकता है (एक ही महिला के नाम पर जारी समस्त आधार शिला योजनाओं को मिलाकर)। Continue reading “एलआईसी की नयी योजना आधार शिला (प्लान न. 844)”

एलआईसी की नयी योजना आधार स्तंभ (प्लान न. 843)

एलआईसी की नयी योजना आधार स्तंभ (प्लान न. 843)

एल आई सी, जीवन बीमा

भारतीय जीवन बीमा निगम दिनाँक 24/04/2017 से अपनी एक नयी योजना आधार स्तंभ (प्लान न. 843) जारी करने जा रहा है। एलआईसी की आधार स्तंभ एक नॉन लिंक्ड, लाभ सहित, रेगुलर प्रीमियम भुगतान वाली बन्दोबस्ती योजना है।  एलआईसी द्वारा यह योजना खास तौर पर पुरुषों के लिये बनायी गयी है जिनके पास भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण द्वारा जारी आधार कार्ड है। आधार स्तम्भ योजना केवल किसी भी मेडिकल परीक्षा के बिना मानक स्वस्थ जीवन के लिए उपलब्ध है| इस प्लान को किसी भी व्यक्ति के स्वंयं के जीवन पर अधिकतम रू. 300000  मूल बीमाधन तक ही लिया जा सकता है (एक ही व्यक्ति के नाम पर जारी समस्त आधार स्तंभ योजनाओं को मिलाकर)। Continue reading “एलआईसी की नयी योजना आधार स्तंभ (प्लान न. 843)”

कैसे बचें बीमा संबंधी धोखाधड़ी (Insurance frauds) से?

कैसे बचें बीमा संबंधी धोखाधड़ी (Insurance frauds) से?

जीवन बीमा

आजकल बीमा संबंधी धोखाधड़ी (Insurance frauds) की खबरें रोज अखबरों मे आ रही हैं। धोखेबाज़ लोगों को झाँसे मे लाने के लिय तरह-तरह  के हथकण्डे आज़माते हैं जैसे, झुठे फोन कॉल करना और अपने आप को आई आर डी ए का ऑफिसर बताना, पॉलिसी के झुठे दस्तावेज़ बनाना, बीमा एजेंट का फर्जी पहचान पत्र बना कर लोगों से पॉलिसी करने के नाम पर पैसे लेना और हड़प कर लेना और ना जाने क्या-क्या, जो हम शायद सोच भी नही सकते। Continue reading “कैसे बचें बीमा संबंधी धोखाधड़ी (Insurance frauds) से?”

एल आई सी की नयी योजना जीवन प्रगति (तालिका क्र. 838)

एल आई सी की नयी योजना जीवन प्रगति (तालिका क्र. 838)

एल आई सी, जीवन बीमा

भारतीय जीवन बीमा निगम दिनाँक 03/02/2016 से अपनी एक नयी बीमा योजना जीवन प्रगति  (तालिका क्र. 838) लाने जा रहा है।  जीवन प्रगति एक नॉन लिंक्ड, लाभ सहित बन्दोबस्ती योजना है जिसमे हर पाँच वर्षों बाद मृत्यु बीमाधन बड़ जाता है। जीवन प्रगति योजना 12 वर्ष के बच्चे से लेकर 45 वर्ष के व्यक्ति के जीवन पर ली जा सकती एवं, हर पाँच वर्षों बाद अधिक मृत्यु बीमाधन की सुरक्षा प्रदान करती है। जीवन प्रगति का युनिक पहचान संख्या 512N306V01 है। Continue reading “एल आई सी की नयी योजना जीवन प्रगति (तालिका क्र. 838)”

एल आई सी की नयी योजना जीवन शिखर (तालिका क्र. 837)

एल आई सी की नयी योजना जीवन शिखर (तालिका क्र. 837)

एल आई सी, जीवन बीमा

भारतीय जीवन बीमा निगम 11/01/2016 से अपनी एक नयी एकल प्रीमियम योजना “जीवन शिखर” (तालिका क्र. 837) पेश करने जा रहा है।  जीवन शिखर एक नॉन लिंक्ड, लाभ सहित, बचत एवं सुरक्षा प्रदान करने वाली एक एकल प्रीमियम योजना है। जीवन शिखर पॉलिसी में तालिका प्रीमियम का 10 गुना रिस्क कवर एवं परिपक्वता पर परिपक्वता बीमाधन एवं सहभागिता हितलाभ का भुगतान होगा।  जीवन शिखर पॉलिसी की विशिष्ट पहचान संख्या (UIN) 512N305V01 है।

जीवन शिखर की पात्रता शतें

जीवन शिखर योजना में मृत्यु हितलाभ

प्रथम 5 पॉलिसी वर्षों में मृत्यु होने पर

जोखिम शुरू होने से पहले: बिना ब्याज के एकल प्रीमियम की वापसी, यहाँ उल्लेखित एकल प्रीमियम में किसी भी तरह का कर, एवं बीमांकन निर्णय के कारण लगाया गया अतिरिक्त प्रभार शामिल नही है।

जोखिम शुरू होने के बाद: “मृत्यु होने पर मिलने वाली बीमा राशि” का भुगतान नॉमिनि को किया जायेगा, जो कि तालिका प्रीमियम के 10 गुना के बराबर होगा।

Also Read: एल आई सी की नयी योजना जीवन लाभ (तालिका क्र. 836)

5 पॉलिसी वर्ष पश्चात एवं परिपक्वता दिनाँक से पहले मृत्यु होने पर

“मृत्यु होने पर मिलने वाली बीमा राशि” जो कि तालिका प्रीमियम के 10 गुना के बराबर होगा एवं सहभागिता हितलाभ, अगर कोई हो तो देय होगा।

जीवन शिखर पॉलिसी में परिपक्वता हितलाभ

परिपक्वता दिनाँक तक जीवित रहने पर बीमित को “परिपक्वता पर मिलने वाला बीमाधन” एवं सहभागिता हितलाभ, अगर कोई हो तो देय होगा।

सहभागिता हितलाभ

जीवन शिखर पॉलिसी एल आई सी के लाभ में हिस्सेदार होगी, एवं सहभागिता हितलाभ के रूप में बीमाधारक या नॉमिनी को देय होगा। सहभागिता हितलाभ की दर एल आई सी के अनुभव पर निर्भर होगी। सहभागिता हितलाभ अगर कोई हो तो, पॉलिसी मे मृत्यु दावे या अभ्यर्पण के साथ देय होगा अगर, पॉलिसी कम से कम पाँच वर्ष चल चुकी हो, या परिपक्वता हितलाभ के साथ देय होगा।

जीवन शिखर में उच्च परिपक्वता बीमाधन पर छूट

जीवन शिखर पॉलिसी की अन्य शर्तें एवं विशेषताएँ

  1. पॉलिसी को पॉलिसी अवधि के दौरान कभी भी अभ्यर्पित किया जा सकता है, प्रथम वर्ष में अभ्यर्पण मूल्य- एकल प्रीमियम का 70%, उसके उपरांत अभ्यर्पण मूल्य- एकल प्रीमियम का 90%।
  2. पॉलिसी जारी होने के तीन महीने पश्चात से लोन सुविधा उपलब्ध
  3. पॉलिसी को एक वित्तीय वर्ष मे पिछली दिनाँक से लिया जा सकता है।
  4. पॉलिसी मे नामांकन एवं समनुदेशन किया जा सकता है।
  5. जीवन शिखर पॉलिसी 31/03/2016 तक बिक्री के लिये उपलब्ध है।
  6. पॉलिसी में जमा की गयी एकल प्रीमियम पर आयकर धारा 80(सी) के तहत छूट ली जा सकती है।

इस लेख को English में पढने के लिये यहाँ क्लिक करें।

एल आई सी की जीवन अक्षय पॉलिसी (189) हो सकती है बंद

एल आई सी की जीवन अक्षय पॉलिसी (189) हो सकती है बंद

एल आई सी, जीवन बीमा

भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण की बीमा कम्पनीयों द्वारा बेची जा रही वार्षिकी योजनाओं से संबंधित अधिसुचना IRDAI/Reg/14/104/2015 दिनाँकित 12/10/2015 के पश्चात भारतीय जीवन बीमा निगम अपनी तत्काल वार्षिकी योजना जीवन अक्षय (तालिका क्र. 189) बन्द कर सकती है, या कुछ बदलावों के साथ दुबारा ला सकती है।

प्राधिकरण उन उत्पादों को हटाने के लिए अलग अनुदेश जारी कर सकता है जो इन विनिमयों के अनुसार नही हैं, परंतु वर्तमान में जीवन बीमाकर्ताओं  द्वारा प्रस्तावित किये गये हैं और जो  प्राधिकरण द्वारा इन विनियमों की अधिसूचना की  तारीख से पहले अनुमोदित हैं।

IRDAI/Reg/14/104/2015

इस अधिसूचना तहत कोई भी जीवन बीमाकर्ता  जारी की गई किसी भी बीमा पॉलसी पर किसी लाभ अथवा बोनस को छोड़कर लाभ की निम्नलिखित से कम राशि अदा नही करेगा अथवा अदा करने का वचन नही देगाः

  1. 1,000 प्रति माह की वार्षिकी
  2. 5,000 की सकल राशि (सूक्ष्म बीमा और स्वास्थ्य बीमा व्यवसाय के अंतगत देय राशि को छोड़कर)
  3. सूक्ष्म बीमा और स्वास्थ्य बीमा व्यवसाय के लिए 1,000 की सकल राशि

बशर्ते कि यह किसी पॉलिसी को किसी भी मूल्य की प्रदत्त पॉलिसी मे परिवर्तन करने अथवा किसी भी पॉलिसी के अभ्यर्पण मूल्य का भुगतान करने के लिये किसी बीमाकर्ता को नही रोकेगा।

जीवन अक्षय 6 भारतीय जीवन बीमा निगम की एक तत्काल वार्षिकि योजना है। जहाँ बीमा धारक को पॉलिसी लेने के अगले माह से  वार्षिकि/पेंशन या बीमा धारक द्वारा चुने गये विकल्प के अनुसार प्रदान की जाती है। जीवन अक्षय 6 योजना 30 से 85 वर्ष तक के व्यक्तियो के लिये उपलब्ध है। इस पॉलिसी को शाखा से या ऑनलाइन भी लिया जा सकता है। शाखा स्तर लेने के लिये  न्युनतम प्रीमियम 100000 एवं ऑनलाइन लेने के लिये 150000 है (सर्विस टेक्स को छोड़कर)। . जीवन अक्षय 6 योजना में 100000 पर मिलने वाली मासिक पेंशन निम्नानुसार है:

Monthly annuity amount under options on min amount in Jeevan Akshay VI
जीवन अक्षय 6 में विभिन्न रू 100000 पर विभिन्न विकल्पों में मिलने वाली मासिक पेंशन

 जीवन अक्षय मे उपलब्ध विकल्प हैं:

    1. आजीवन वार्षिकी, समान दर से.
    2. वार्षिकी 5, 10, 15 और 20 सालों के लिये, उसके पश्चात वृत्तिधारी के जीवित रहने तक.
    3. आजीवन वार्षिकी, एवं वृत्तिधारी की मृत्यू पर क्रय मूल्य की वापसी.
    4. आजीवन वार्षिकी, 3% प्रति वर्ष की सामान्य दर से बढोत्तरी के साथ.
    5. आजीवन वार्षिकी, एवं वृत्तिधारी की मृत्यू पर जीवनसाथी को 50% वार्षिकी आजीवन
    6. आजीवन वार्षिकी, एवं वृत्तिधारी की मृत्यू पर जीवनसाथी को 100% वार्षिकी आजीवन
    7. आजीवन वार्षिकी, एवं वृत्तिधारी की मृत्यू पर जीवनसाथी को 100% वार्षिकी आजीवन, एवं अंतिम वृत्तिधारी की मृत्यू पर नॉमिनी को क्रय मूल्य की वापसी

जीवन अक्षय 6 की अधिक जानकारी के लिये अपने अभिकर्ता से सम्पर्क करें या निकटतम शाखा में सम्पर्क करें। जीवन अक्षय 6 प्लान एल आई सी वेबसाइट से ऑनलाइन भी लिया जा सकता है, ऑनलाइन लेने के लिय  यहाँ क्लिक करें

भा बी वि वि प्रा  द्वारा जारी अधिसूचना को पढने या डाउनलोड करने के लिये  यहाँ क्लिक करें

डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा एलआईसी प्रीमयम भुगतान के लिये

डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा एलआईसी प्रीमयम भुगतान के लिये

जीवन बीमा

क्या आप अपनी पिछली एलआईसी की किश्त समय पर देना भूल गये हैं? क्या आपको किश्त भुगतान तिथि याद रखना एक सिर दर्द लगता है? क्या आपकी सभी पॉलिसियों की भुगतान तिथि अलग अलग है? क्या ईसीएस के माधयम से पॉलिसी प्रीमियम भुगतान करना चाहते हैं, पर आपके बैंक में यह सुविधा उपलब्ध नही है? यदि हाँ, तो हल है एलाआईसी की डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) प्रीमियम भुगतान सुविधा, बस आपका बैंक खाता आईसीआईसीआई, कोर्पोरेशन बैंक या भारतीय स्टेट बैंक की किसी भी शाखा में होना चाहिये।

To read this Article in English Click Here direct debit

अभी तक सिर्फ इन्ही तीन बैंक के साथ एलाअईसी की डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) प्रीमियम भुगतान सुविधा उपलब्ध है। डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा और  ईसीएस सुविधा में एक छोटा सा अंतर है,  ईसीएस सुविधा में बैंक और एलआईसी के बीच  ईसीएस  प्रोसेसिंग सेंटर के माध्यम से भुगतान होता है जबकि, डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा  मे बैंक प्रीमियम भुगतान तिथि पर खाता धारक के खाते से पैसे काट कर एलआईसी के पूल खाते मे जमा कर देता है, और एलाआईसी फिर प्रीमियम पॉलिसी धारक की पॉलिसी में समायोजित कर देता है।  इस सुविधा का लाभ आईसीआईसीआई, कोर्पोरेशन बैंक या भारतीय स्टेट बैंक की किसी भी शाखा के खाता धारक ले सकते हैं, चाहे वह शाखा में ईसीएस सुविधा हो या नही हो। खासतौर से ग्रामीण शाखाएं ईसीएस  प्रोसेसिंग सेंटर से नही जुडी होती है, ऐसी शाखाओं के खाता धारकों के लिए यह एक काफी उपयोगी सुविधा है। डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा नये तथा पुराने सभी बीमा धारकों के लिये उपलब्ध है।

डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा को निम्नानुसार चालु कराया जा सकता है

  1. डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) के लिये निर्धारित फॉर्म भरें (2 प्रति में)
  2. एक प्रति को अपनी बैंक शाखा में जमा करायें, तथा दूसरी प्रति को बैंक से प्रति हस्ताक्षरित करायें।
  3. दूसरी प्रति हस्ताक्षरित प्रति को अपनी एलआईसी की शाखा में जमा करायें, जो की बहुत अनिवार्य है, ध्यान रहे की एलआईसी बिना प्रति हस्ताक्षरित फॉर्म स्वीकार नही करती है

डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) से संबंधित अन्य आवश्यक जानकारियाँ

  1. डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा को कभी भी एवं कसी भी प्रीमियम भुगतान प्रकार के लिये लिया जा सक्ता है।
  2. डेबिट दिनाँक पर पॉलिसी धारक के खाते में पर्याप्त रकम होनी चाहिये।
  3. अगर डेबिट “अपर्याप्त शेषराशि” के कारण से अनाद्रत होता है तो प्रति लेन देन रू. 125 का शुल्क एलआईसी द्वारा लिया जायेगा।
  4. अगर कोई भी देय प्रीमियम अनाद्रत होती है तो, बीमा धारक को भुगतान करने की दिनाँक तक देय सभी प्रीमियम एवं शुल्क एलआईसी की शाखा में जमा कराना आवश्यक है।

डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) के मेंडेट फॉर्म को डाउनलोड करने के लिये यहाँ क्लिक करें