जीवन आरोग्य योजना एलआईसी की एक स्वास्थ्य बीमा योजना है। जीवन आरोग्य एक निश्चित लाभ योजना है, अर्थात् अस्पताल में भर्ती होने पर आपको हॉस्पिटलाइज़ेशन और सर्जरी के दिनों की संख्या से संबंधित निश्चित राशि मिलती है । एलआईसी दो जीवन आरोग्य योजनाएं हैं जो वर्तमान में एलआईसी द्वारा सर्विस की जाती हैं; एक जीवन आरोग्य, प्लान न. 903 और जीवन आरोग्य, प्लान न. 904 है। जीवन आरोग्य, प्लान न. 903 अब बिक्री के लिए बंद कर दिया गया है। जीवन आरोग्य पॉलिसी मे किसी प्रकार का दावा करने के लिये अस्पताल में भर्ती के बाद, मुख्य बीमाधारक (जिसके नाम पर पॉलिसी जारी की गयी है) को इलाज के मूल कागजात के साथ या सभी उपचार पत्रों की अनुप्रमाणित प्रतियों के साथ दावा फार्म सबमिट करके एलआईसी से राशि का दावा करना होता है।

अस्पताल में भर्ती होने पर क्या करना है?

जब भी बीमित व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती कराया जाता है, वह या उसके रिश्तेदार को अस्पताल में भर्ती अवधि के दौरान या बीमित के अस्पताल से छुट्टी के तुरंत बाद अपनी पॉलिसी की सर्विसिंग शाखा में बीमित के अस्पताल में भर्ती होने की जानकारी लिखित रूप में देनी होती है। किसी भी मामले में दावा फ़ॉर्म के साथ भर्ती की सूचना बीमाधारक के अस्पताल से छुट्टी होने के 30 दिनों के भीतर सर्विसिंग शाखा तक पहुंचनी चाहिए।

जीवन आरोग्य लगने वाले आवश्यक दावा फ़ॉर्म

जीवन आरोग्य योजना के लाभों का दावा करते हुए, मुख्य बीमाधारक (Principal Insured) को बीमित/स्वंय के अस्पताल से प्राप्त डिस्चार्ज फॉर्म और उपचार के कागजात के साथ कुछ फॉर्म जमा करना पड़ते है। जीवन आरोग्य योजना में आप लाभों का दावा करने के लिए सभी दस्तावेजों की अनुप्रमाणित प्रतियां भी जमा कर सकते हैं। आप अपनी मेडिक्लेम पॉलिसी (जनरल इंश्योरेंस पॉलिसी) में दावा करने के लिए मूल का उपयोग कर सकते हैं। जीवन आरोग्य पॉलिसी में दावा करने के लिए निम्नलिखित फॉर्म की आवश्यकता है:

दावा सूचना फ़ॉर्म

यह सूचना फार्म है, जो मुख्य बीमाधारक (Principal Insured)  को एलआईसी सर्विसिंग शाखा में जमा करना होगा। इस फॉर्म में निम्न विवरण की आवश्यकता है

  1. पॉलिसी क्रमांक
  2. प्रमुख बीमाधारक का नाम, पता और संपर्क विवरण
  3. थर्ड पार्टी एडमिनिस्ट्रेटर (टीपीए) का विवरण, अगर कोई हो
  4. बीमित व्यक्ति का विवरण जिनके उपचार के खर्च के लिये दावा किया जा रहा है
  5. अस्पताल में भर्ती के विवरण

दावे सूचना फॉर्म के अंत में फ़ॉर्म को जमा करने के लिए दिशानिर्देश भी आपको मुद्रित मिलेगा

अस्पताल उपचार फॉर्म

अस्पताल उपचार प्रपत्र एक ऐसा प्रपत्र है जिसने मुख्य बीमाधारक/दावेदार को अस्पताल प्रबंधन (जहां बीमाकृत उपचार किया गया था) द्वारा भरे जाने के बाद एलआईसी को जमा करना होगा । यह प्रपत्र, उपचार, बीमारी, आईसीयू विवरण (अगर बीमित अस्पताल में भर्ती के दौरान आईसीयू में था) के दिन के बारे में सभी विवरणों को सारांशित करता है और यदि कोई शल्य-चिकित्सा की गयी हो तो जानकारी भी इस फॉर्म में भरी जाती है । दावेदार को एलआईसी द्वारा दिए गए हेल्थ कार्ड की प्रतिलिपि को प्रपत्र पर उपलब्ध स्थान में पेस्ट करना चाहिए और इसे अस्पताल प्रबंधन द्वारा सत्यापित किया जाएगा। यदि दावेदार के पास स्वास्थ्य कार्ड नहीं है, तो फोटो आईडी की एक प्रति (बीमित की आईडी जिसे अस्पताल में भर्ती किया गया था) को प्रपत्र के निर्धारित स्थान पर चिपकाया जाना चाहिए और उसे अस्पताल के अधिकारियों द्वारा सत्यापित किया जाना चाहिए। इस फॉर्म पर भी आवश्यक जगह पर मुख्य बीमाधारक/दावेदार द्वारा हस्ताक्षर होना चाहिए।

एलआईसी की स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी के तहत एचसीबी / एमएसबी / डीसीपीबी / ओएसबी / त्वरित नकद के लिए दावा करने का फॉर्म

जीवन आरोग्य के लाभों का दावा करने के लिए मुख्य बीमाधारक द्वारा इस फॉर्म को भरना है। इस फॉर्म में बीमित जिसका अस्पताल में उपचार हुआ है, का विवरण, दावेदार के बैंक विवरण के साथ अस्पताल में भर्ती के उपचार, प्रकार और अवधि की जानकारी होती है, इस फॉर्म को आवश्यक स्थानों पर मुख्य बीमाधारक/दावेदार द्वारा हस्ताक्षरित होना चाहिए।

उपर्युक्त सभी दावा फॉर्म के साथ जमा किये जाने वाले आवश्यक दस्तावेज

उपर्युक्त फॉर्म के अलावा, अन्य दस्तावेज हैं जो कि दावा फॉर्म के साथ जमा किए जाने होते है। इन दस्तावेजों का नीचे उल्लेख किया है

  1. अस्पताल से बिल, रसीद और छुट्टी का प्रमाणपत्र/कार्ड।
  2. अस्पताल/केमिस्ट के कैश मेमोस, संबंधित डॉक्टर के प्रिश्क्रिपशन के अनुसार रोग संबंधी परीक्षण एवं रसीद जो संबंधित डॉक्टर सुझायी गये हों (कृपया एक्स-रे/स्कैन जमा न करें। एक्स-रे/स्कैन के लिए डॉक्टर के पर्चे की प्रतियां जमा करें, एक्स-रे/स्कैन की सिर्फ रिपोर्ट जमा करें।)
  3. शल्य चिकित्सक का सर्टिफिकेट जिसने किये गये ऑपरेशन की प्रकृति का वर्णन किया और सर्जन के बिल और रसीद।
  4. चिकित्सक / सलाहकार / विशेषज्ञ / एनेस्थेटिस्ट के बिल और निदान के बारे में रसीद और प्रमाण पत्र
  5. आकस्मिक शारीरिक चोट के दावे के संबंध में एफआईआर और संबंधित दस्तावेज (मेडिको-कानूनी मामलों में)
  6. बीमाधारक और मुख्य बीमाधारक/दावेदार के आईडी प्रमाण
  7. एक रद्द किया गया चेक, बैंक खाते की जानकारी हेतु (जिसमें दावा स्वीकृति के पश्चात एलआईसी द्वारा दावा राशि भेजी जाएगी)

इन दस्तावेज़ों को मूल रूप से या प्रमाणित प्रतियों में दावा फॉर्म के साथ प्रस्तुत किया जाना चाहिए। मुख्य बीमाधारक/स्वयं भी प्रत्येक दस्तावेज को स्वयं-प्रमाणित करना चाहिए।

दावा फ़ॉर्म को कहां जमा करें

मुख्य बीमाधारक अपनी पॉलिसी सर्विसिंग शाखा या संबंधित एलआईसी डिवीज़िनल ऑफिस के स्वास्थ्य बीमा विभाग में सीधे दावा फ़ॉर्म जमा कर सकता है। शाखा में जमा किए गए सभी दावा फ़ॉर्म उस डिवीजन के स्वास्थ्य बीमा विभाग को भेजे जाते हैं और बाद में इसे आगे की प्रक्रिया के लिए टीपीए को  भेजा जाता है।

जीवन आरोग्य में दावे निपटान की प्रक्रिया

जब मुख्य बीमाधारक/दावेदार शाखा में आवश्यक दस्तावेजों के साथ दावे के जरुरी समस्त फॉर्म जमा करता है, तो उसे एलआईसी के डिवीज़िनल कार्यालय के स्वास्थ्य बीमा विभाग को भेजा जाता है। स्वास्थ्य बीमा विभाग पेपर की जांच करता है और उन्हें दावे के आगे की प्रक्रिया के लिए टीपीए को भेजता है।  टीपीए ने दावा पत्रों की जांच करता है एवं यदि अधूरा पाया गया तो पॉलिसीधारक से आवश्यकता के लिए कहता है। यदि सभी आवश्यकताओं को दावेदार द्वारा पूरा किया जाता है तो टीपीए दिए गए दस्तावेजों के आधार पर दावे को संसाधित करता है और निर्णय लेता है कि क्या दावे को स्वीकार करना है या नहीं। स्वीकृति या अस्वीकृति के बारे में निर्णय टीपीए द्वारा एलआईसी को भेजा जाता है। स्वीकृति का निर्णय मिलने पर एलआईसी दावा राशि के भुगतान के लिए बैंक को भुगतान निर्देश जारी करता है, यदि इसी कारण से दावा अस्वीकृत दिया गया है तो पॉलिसीधारक को अस्वीकृति पत्र भेजा जाता है जिसमे अस्वीकृति का कारण भी उल्लेखित होता है।

आपके दावे का फ़ॉर्म सबमिट करने से पहले चेकलिस्ट

  1. सुनिश्चित करें कि आपने फ़ॉर्म को पूरी तरह से भर दिया है, जो कॉलम लागू नहीं हो तो उस कॉलम में -लागू नहीं- लिखें।
  2. हॉस्पिटल के उपचार फार्म को विधिवत रूप से भरा जाना चाहिए और बीमित/मुख्य बीमाधारक (पीआई) द्वारा स्वयं-प्रमाणित होना चाहिए।
  3. अस्पताल के उपचार के फार्म अस्पताल के अधिकारियों या चिकित्सक द्वारा हस्ताक्षर किए गये हों, जिन्होंने उपचार किया था।
  4. हेल्थ कार्ड (ई-कार्ड) या बीमाकृत व्यक्ति की फोटो आईडी की प्रतिलिपि (जिसका उपचार हुआ है) अस्पताल के उपचार फार्म पर चिपकाया गया है और अस्पताल के अधिकारियों / डॉक्टरों द्वारा प्रमाणित है।
  5. अस्पताल डिस्चार्ज कार्ड की मूल/प्रमाणित प्रति बीमित/मुख्य बीमाधारक द्वारा अभिप्रमाणित की गयी है।
  6. अस्पताल द्वारा प्रदान किए गए बिलों को प्रस्तुत किया जाना चाहिए (मूल या प्रमाणित प्रतियां) और मुख्य बीमाधारक द्वारा स्वयं-प्रमाणित होना चाहिए।
  7. पैथोलॉजी रिपोर्ट की मूल / प्रमाणित प्रतियां या चिकित्सक द्वारा दी गई कोई भी विशेष रिपोर्ट और डिस्चार्ज कार्ड में उल्लेखित कोई भी रिपोर्ट प्रस्तुत करना चाहिए और पीआई (मुख्य बीमाधारक) द्वारा स्वयं-प्रमाणित किया जाना चाहिए।
  8. किसी भी मेडिको-कानूनी मामले के लिए प्राथमिकी की मूल/प्रमाणित प्रतियां, पीआई द्वारा स्वयं-प्रमाणित
  9. बीमित एवं मुख्य बीमाधारक (अगर अलग अलग हों तो) के फोटो आईडी की स्वयं-प्रमाणित प्रति।
  10. बैंक खाता का रद्द किया गया चेक जिसमें दावा राशि जमा की जाएगी।
  11. अगर किसी भी मामले में 30 दिनों के बाद दावे के फॉर्म प्रस्तुत किए जाते हैं, तो इसके लिए कारण प्रस्तुत किया जाना चाहिए।
  12. जीवन आरोग्य योजना में मुख्य बीमाधारक को सभी दस्तावेजों को स्वयं-प्रमाणित किया गया है।

दावे के लिये फ़ॉर्म डाउनलोड करें

दावा सूचना फ़ॉर्म | अस्पताल उपचार फ़ॉर्म | एचसीबी / एमएसबी / डीसीपीबी / ओएसबी / क्विक कैश का दावा करने के लिए फॉर्म

अपने जीवन आरोग्य दावा स्थिति की जांच कैसे करें?

एलआईसी स्वास्थ्य योजनाओं के लिए थर्ड पार्टी एडमिनिस्ट्रेटर (टीपीए) E-Meditek हैं। नीचे दिए गए लिंक पर जाकर आप जीवन आरोग्य पॉलिसी में अपने दावे की स्थिति की जांच कर सकते हैं। आप अपनी प्रोफ़ाइल और दावे की स्थिति भी देख सकते हैं। आप यहां से अपनी पॉलिसी का ई-कार्ड भी डाउनलोड कर सकते हैं। दावा की स्थिति केवल तभी दिखाई जाएगी यदि वह E-Meditek साइट पर पंजीकृत की जा चुकी हो।

आपकी जीवन आरोग्य नीति की दावे की स्थिति की जांच के लिए लिंक पर जाएं: दावा स्थिति

पॉलिसी में उल्लेखित पॉलिसी नंबर और अपनी जन्म तिथि दर्ज करने के बाद, आप अपना प्रोफ़ाइल देख सकेंगे। पृष्ठ के बाएं साइडबार में दिए गए दावे विकल्प पर क्लिक करें और आप दावे की स्थिति को देख सकेंगे, यदि आप टीपीए द्वारा मांगी गयी किसी अतिरिक्त जानकारी/आवश्यकता को भी आप देख सकते हैं। एलआईसी से पूछताछ के लिए अपने निकटतम एलआईसी कस्टमर ज़ोन को फोन करें आप E-Meditek के इन नंबरों पर भी कॉल कर सकते हैं: ग्राहक सेवा: 18001023242 या + 91-124-4980555।

Leave a Reply