एलआईसी की नयी योजना आधार स्तंभ (प्लान न. 843)

एलआईसी की नयी योजना आधार स्तंभ (प्लान न. 843)

एल आई सी, जीवन बीमा
भारतीय जीवन बीमा निगम दिनाँक 24/04/2017 से अपनी एक नयी योजना आधार स्तंभ (प्लान न. 843) जारी करने जा रहा है। एलआईसी की आधार स्तंभ एक नॉन लिंक्ड, लाभ सहित, रेगुलर प्रीमियम भुगतान वाली बन्दोबस्ती योजना है।  एलआईसी द्वारा यह योजना खास तौर पर पुरुषों के लिये बनायी गयी है जिनके पास भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण द्वारा जारी आधार कार्ड है। आधार स्तम्भ योजना केवल किसी भी मेडिकल परीक्षा के बिना मानक स्वस्थ जीवन के लिए उपलब्ध है| इस प्लान को किसी भी व्यक्ति के स्वंयं के जीवन पर अधिकतम रू. 300000  मूल बीमाधन तक ही लिया जा सकता है (एक ही व्यक्ति के नाम पर जारी समस्त आधार स्तंभ योजनाओं को मिलाकर)। (more…)
Read More
जानिये स्वास्थ्य  बीमा के 5 अनजान पहलुओ को

जानिये स्वास्थ्य बीमा के 5 अनजान पहलुओ को

गेस्ट पोस्ट, सामान्य बीमा
एक स्वस्थ्य जीवनशैली सिर्फ बीमारिया होने के खतरों को कम करता है ना की आपको बीमारियों के पहुच से पूरी तरह से दूर रखता है। आज के दौर में एक स्वस्थ्य आदमी जो की पौष्टिक आहार के साथ एक स्वस्थ्य जीवनशैली का पालन करता है, वो भी बीमारियों की चपेट में आसानी से आ सकता है और इसका कारण आजकल की पर्यावरण की बिगड़ती स्तिथि भी है। ऐसे स्तिथि से आप अंदाजा लगा सकते है की आजकल स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानियों से कितने लोग जूझ रहे है। (more…)
Read More
कैसे बचत कर सकते है आप अपने वाहन बीमा प्रीमियम राशि पर

कैसे बचत कर सकते है आप अपने वाहन बीमा प्रीमियम राशि पर

गेस्ट पोस्ट, सामान्य बीमा
भारत में सड़क दुर्घटनाओ की बढ़ती संख्या एक बहुत बड़ी परेशानी का कारण बन चुकी है। आंकड़ो के अनुसार, वर्ष 2015 में ही लगभग 146,133 लोग सड़क दुर्घटना में मारे गए । अगर हम रोजाना के औसतों की बात करे तो भारत में हर दिन लगभग 400 लोग सड़क दुर्घटना में मारे जाते है। असंरचित सड़को और लापरवाह ड्राइवर्स के चलते सड़क से जुड़े जोखिम बहुत ज्यादा बढ़ गए है। ऐसे परिस्थिति में आपके पास एक वाहन बीमा होना बेहद जरुरी है पर आजकल के बढ़ते वाहन बीमा के दामो के चलते, बीमा का यह उत्पाद आम आदमियो के लिये एक वित्तीय परेशानी बन गया है। (more…)
Read More
कैसे बचें बीमा संबंधी धोखाधड़ी (Insurance frauds) से?

कैसे बचें बीमा संबंधी धोखाधड़ी (Insurance frauds) से?

जीवन बीमा
आजकल बीमा संबंधी धोखाधड़ी (Insurance frauds) की खबरें रोज अखबरों मे आ रही हैं। धोखेबाज़ लोगों को झाँसे मे लाने के लिय तरह-तरह  के हथकण्डे आज़माते हैं जैसे, झुठे फोन कॉल करना और अपने आप को आई आर डी ए का ऑफिसर बताना, पॉलिसी के झुठे दस्तावेज़ बनाना, बीमा एजेंट का फर्जी पहचान पत्र बना कर लोगों से पॉलिसी करने के नाम पर पैसे लेना और हड़प कर लेना और ना जाने क्या-क्या, जो हम शायद सोच भी नही सकते। (more…)
Read More
एल आई सी की नयी योजना जीवन प्रगति (तालिका क्र. 838)

एल आई सी की नयी योजना जीवन प्रगति (तालिका क्र. 838)

एल आई सी, जीवन बीमा
भारतीय जीवन बीमा निगम दिनाँक 03/02/2016 से अपनी एक नयी बीमा योजना जीवन प्रगति  (तालिका क्र. 838) लाने जा रहा है।  जीवन प्रगति एक नॉन लिंक्ड, लाभ सहित बन्दोबस्ती योजना है जिसमे हर पाँच वर्षों बाद मृत्यु बीमाधन बड़ जाता है। जीवन प्रगति योजना 12 वर्ष के बच्चे से लेकर 45 वर्ष के व्यक्ति के जीवन पर ली जा सकती एवं, हर पाँच वर्षों बाद अधिक मृत्यु बीमाधन की सुरक्षा प्रदान करती है। जीवन प्रगति का युनिक पहचान संख्या 512N306V01 है। (more…)
Read More
एल आई सी की नयी योजना जीवन शिखर (तालिका क्र. 837)

एल आई सी की नयी योजना जीवन शिखर (तालिका क्र. 837)

एल आई सी, जीवन बीमा
भारतीय जीवन बीमा निगम 11/01/2016 से अपनी एक नयी एकल प्रीमियम योजना "जीवन शिखर" (तालिका क्र. 837) पेश करने जा रहा है।  जीवन शिखर एक नॉन लिंक्ड, लाभ सहित, बचत एवं सुरक्षा प्रदान करने वाली एक एकल प्रीमियम योजना है। जीवन शिखर पॉलिसी में तालिका प्रीमियम का 10 गुना रिस्क कवर एवं परिपक्वता पर परिपक्वता बीमाधन एवं सहभागिता हितलाभ का भुगतान होगा।  जीवन शिखर पॉलिसी की विशिष्ट पहचान संख्या (UIN) 512N305V01 है। जीवन शिखर योजना में मृत्यु हितलाभ प्रथम 5 पॉलिसी वर्षों में मृत्यु होने पर जोखिम शुरू होने से पहले: बिना ब्याज के एकल प्रीमियम की वापसी, यहाँ उल्लेखित एकल प्रीमियम में किसी भी तरह का कर, एवं बीमांकन निर्णय के कारण लगाया गया अतिरिक्त प्रभार शामिल नही है। जोखिम शुरू होने के बाद: "मृत्यु होने पर मिलने वाली बीमा राशि" का भुगतान नॉमिनि…
Read More
एल आई सी की जीवन अक्षय पॉलिसी (189) हो सकती है बंद

एल आई सी की जीवन अक्षय पॉलिसी (189) हो सकती है बंद

एल आई सी, जीवन बीमा
भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण की बीमा कम्पनीयों द्वारा बेची जा रही वार्षिकी योजनाओं से संबंधित अधिसुचना IRDAI/Reg/14/104/2015 दिनाँकित 12/10/2015 के पश्चात भारतीय जीवन बीमा निगम अपनी तत्काल वार्षिकी योजना जीवन अक्षय (तालिका क्र. 189) बन्द कर सकती है, या कुछ बदलावों के साथ दुबारा ला सकती है। प्राधिकरण उन उत्पादों को हटाने के लिए अलग अनुदेश जारी कर सकता है जो इन विनिमयों के अनुसार नही हैं, परंतु वर्तमान में जीवन बीमाकर्ताओं  द्वारा प्रस्तावित किये गये हैं और जो  प्राधिकरण द्वारा इन विनियमों की अधिसूचना की  तारीख से पहले अनुमोदित हैं। IRDAI/Reg/14/104/2015 इस अधिसूचना तहत कोई भी जीवन बीमाकर्ता  जारी की गई किसी भी बीमा पॉलसी पर किसी लाभ अथवा बोनस को छोड़कर लाभ की निम्नलिखित से कम राशि अदा नही करेगा अथवा अदा करने का वचन नही देगाः 1,000 प्रति माह की…
Read More
डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा एलआईसी प्रीमयम भुगतान के लिये

डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा एलआईसी प्रीमयम भुगतान के लिये

जीवन बीमा
क्या आप अपनी पिछली एलआईसी की किश्त समय पर देना भूल गये हैं? क्या आपको किश्त भुगतान तिथि याद रखना एक सिर दर्द लगता है? क्या आपकी सभी पॉलिसियों की भुगतान तिथि अलग अलग है? क्या ईसीएस के माधयम से पॉलिसी प्रीमियम भुगतान करना चाहते हैं, पर आपके बैंक में यह सुविधा उपलब्ध नही है? यदि हाँ, तो हल है एलाआईसी की डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) प्रीमियम भुगतान सुविधा, बस आपका बैंक खाता आईसीआईसीआई, कोर्पोरेशन बैंक या भारतीय स्टेट बैंक की किसी भी शाखा में होना चाहिये। अभी तक सिर्फ इन्ही तीन बैंक के साथ एलाअईसी की डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) प्रीमियम भुगतान सुविधा उपलब्ध है। डारेक्ट डेबिट (Direct Debit) सुविधा और  ईसीएस सुविधा में एक छोटा सा अंतर है,  ईसीएस सुविधा में बैंक और एलआईसी के बीच  ईसीएस  प्रोसेसिंग सेंटर…
Read More
एलआईसी पॉलिसी के समस्त भुगतान पायें NEFT से सीधे अपने खाते में

एलआईसी पॉलिसी के समस्त भुगतान पायें NEFT से सीधे अपने खाते में

जीवन बीमा
रतीय जीवन बीमा निगम अब अपने समस्त पॉलिसी भुगतान NEFT भुगतान पद्धति के माध्यम से करने लगा है। आपकी पॉलिसी के अंतर्गत होने वाले सभी भुगतान NEFT के माध्यम से सीधे आपके बैंक खाते मे पहुंच जायेंगे। इसके लिये आपको अपने बैंक खाते की जानकारी एलआईसी को देनी होगी ताकि NEFT के द्वारा आपको भुगतान प्राप्त हो सके। NEFT के बारे मे जानकारी नीचे बतायी गयी है।  आपको बस NEFT  का फॉर्म अपने निरस्त किये हुये चेक (जिस पर आपका नाम, खाता नम्बर एवं आईएफएस कोड लिखा हो) या बैंक पासबुक के प्रथम पृष्ठ की छायाप्रति (जिस पर आपका नाम, खाता नम्बर एवं आईएफएस कोड लिखा हो) अपनी शाखा ने जमा करना है। यह एक अहम प्रक्रिया है जिसे करना आवश्यक है क्युंकि भारतीय जीवन बीमा निगम ने अब चेक…
Read More